ARTICLES BASED ON HINDI LANGUAGE [NATIONAL LANGUAGE OF INDIA]

Hindi Poet's Corner Poetry

कुछ करने से पहले

आहार, निंद्रा, भय, मैथुनमें पूरा जग फसता हैं
तुं सिर्फ उसमे फसना मत

Advertisements